बॉयज हॉस्टल में मज़ा
 
बॉयज हॉस्टल में मज़ा...
एक हमारा दोस्त जो किर्गिस्तान (यूरोप) से था! जे.एन.यू (JNU) में पढाई कर रहा था! हम दो दोस्त अपने उस दोस्त के पास जे.एन.यू में जाते, एन्जॉय करते और एन्जॉय करने का बाद वापस आ जाते! हमारा वो विदेशी किर्गिस्तानी दोस्त एक बॉक्सर भी था! उसकी और हमारी दोस्ती बहुत ही गहरी थी! मैं उस विदेशी दोस्त के साथ ज्यादा खुला हुआ था! जे.एन.यू के बॉयज हॉस्टल में उसका अपना कमरा था! जिसकी एक चाबी उसने मुझे भी दे रखी थी!

ऐसे ही एक बार हमारा वो विदेशी किर्गिस्तानी दोस्त, अपने जे.एन.यू के दोस्तों के साथ, 3-4 दिन के लिये शिमला, मनाली के टूर पर गया! उसके बॉयज हॉस्टल के रूम की एक चाबी मेरे पास भी थी! और उसी दौरान मेरी एक लड़की से फ़ोन पर एक महीने से बात हो रही थी!

हम दोनों मिलना चाहते थे, एक दुसरे के साथ अकेले में समय बिताना चाहते थे! अब मुझे इससे अच्छा मौका कहा मिलने वाला था! मैं उस लड़की से पहली बार मिला, और उसे जे.एन.यू में अपने उस दोस्त के कमरे में ले आया! हम दोनों थोड़ी देर बैठे और फिर उस लड़की को मैंने अपनी बाहों में भर लिया! वो जैसे प्यार के लिए पागल थी! उसकी तड़प और उसकी कामुकता देखकर मेरा कामुक होना निश्चित था!

मैंने उस लड़की को किस करना और उसके स्तनों (बूब्स) को सहलाना शुरू किया! वो तड़प गयी! हम एक दुसरे के कपडे उतारने लगे! एक दुसरे के साथ हम दोनों आज जे.एन.यू के उस बॉयज हॉस्टल में नग्नावस्था में थे! थोड़ी देर में हम दोनों एक दुसरे में विलीन हो गये! थोड़ी देर काम वासना से मुक्त हॊने के बाद हम दोनों, साथ बैठे गप्पे मारने लगे! अब वो लड़की मुझसे पूरा खुल चुकी थी, और मुझे फिर सहलाने लगी!

उसका सहलाना मेरी काम वासना को और बढ़ावा दे रहा था, तो मैंने भी उसके स्तनों के साथ खेलना शुरू कर दिया! और थोड़ी देर बाद हम दोनों एक साथ फिर जुड़ गए और मुझे उस लड़की के अंदर फिर से शहीद होना पड़ा!


Spicy Chapters...