लिव इन रिलेशनशिप मे
 
लिव इन रिलेशनशिप मे...
जैसे मुझे चैट का बहुत शौक था और शायद अपनी कंपनी में मुझे चैट का बेताज बादशाह माना जाता था! इसी बाद्शाहियत के चलते मैंने अपनी एक खुद की वेबसाइट बना डाली! उस वेबसाइट के कांटेक्ट पेज पर मैंने अपनी फोटोग्राफ भी डाली! और उस वेबसाइट को मैंने फ्री सर्वर पर अपलोड कर दिया, बाद में मुझे उससे कई कॉन्ट्रैक्ट्स भी मिले!

मुझे याद है सन 2000 की, जब एक दिन मेरे ईमेल बॉक्स में किसी लड़की का एक ईमेल आया! उसने मेरी वेबसाइट की तारीफ की और मेरा फोटो देखकर मुझसे दोस्ती का प्रस्ताव रखा! मैंने उसके उत्तर में हाँ कहा और अब हम दोनों का, एक दुसरे को ईमेल शुरू हो गया! ईमेल कम्युनिकेशन से पता लगा की वो मुंबई में रहती है, और एक मॉडल है! वो मेरे से 5 साल छोटी थी! उसकी फोटोग्राफ देखने पर वो गज़ब की सुन्दर थी! हम दोनों का ईमेल पर कम्युनिकेशन चलता रहा और एक दिन उसने कहा कि उसने मेरे शहर में मॉडलिंग का कॉन्ट्रैक्ट लिया है! और वो 10 दिनों के लिये मेरे शहर में रहेगी! मैं ख़ुशी के मारे झूम उठा क्यूंकि, मुझे उससे पहली बार मिलने का मौका जो रहा था! वो मेरे शहर में आयी और एक दिन उसने शाम को मिलने को कहा! मैं उसकी बताई हुई जगह पर समानुसार पहुच गया! हम दोनों पहली मिले और मिलते ही गले लग गये! हम दोनों का गले लगना लाज़मी था क्यूंकि वो देखने में अति सुन्दर थी! उसकी बड़ी बड़ी काली आँखे, सुराहीदार गर्दन, पतली कमर, गोरा रंग, उसके लाल होठ, उसके देखने और बात करने के स्टाइल पर मैं फ़िदा हो गया! हम दोनों अब रोज शाम को मिलते, समय बिताते और अपनी ज़िन्दगी का भरपूर मजा ले रहे थे!

उस समय मेरी छोटी बहन मेरे साथ रहती थी, लेकिन समय समय पर वो घर (क्यूंकि मैं दुसरे शहर से आया था, और हमारा घर दुसरे शहर में था) में माँ के पास चली जाती थी! इत्तेफाकन उस समय मेरी बहन 3-4 दिन के लिए माँ के पास गयी हुई थी और मैंने अपनी दोस्त को घर आने का निमंत्रण दे दिया और वो आ गयी! हम दोनों शाम को घर पर बैठे थे और हम दोनों ने 2-2 व्हिस्की के पेग्स लगाये! मैंने उसके लिए खाना तैयार किया, जो उसे बहुत पसंद आया! हम दोनों को पीने के बाद थोडा सा सरूर भी था और हम दोनों में प्यार भी तो था! उसने मुझे पकड़ कर किस किया तो, मैंने उसे अपनी बाहों में उठा लिया और अपने होठ उसके होठो पर रख दिये! हम दोनों अब एक दुसरे के होटो का रस चूस रहे थे और आनन्दित थे! धीरे-धीरे उसने मेरी शर्ट उतारी और मैंने उसकी टी-शर्ट! उसके गोरे चिकने नंगे बदन पर उसकी लाल ब्रा उसे और सेक्सी बना रही थी! फिर उसने मेरी बेल्ट खोली तो मैंने भी वही किया! उसने मेरी जीन्स की ज़िप खोली, मैंने भी उसकी जीन्स की ज़िप खोलकर उसकी जीन्स को उतार दिया! उसकी लाल कच्छी और गोरा चिकना बदन कमाल था! मैंने शायद पहली बार एक मॉडल की वो फिगर जिसे बताना मुश्किल है, देखी! मुझे उसके गोरे चिकने बदन पर लाल रंग के छोटे कपडे (उसकी ब्रा और कच्छी) देखकर उत्तेजना हो रही थी! वो भी उत्तेजित थी! उसने भी मेरी चड्ढी उतार दी और फिर हम दोनों उस रात कई बार एक दुसरे से जुड़ गये!

अब हम दोनों के बीच की दूरिय ख़त्म हो चुकी थी! अब जब जब मेरी छोटी बहन माँ के पास जाती! मेरी गर्ल फ्रेंड मेरे पास आ जाती! अब ये सिलसिला हम दोनों के लिये आम हो गया था! किसी को भी इस बात की भनक नहीं थी कि, मेरी गर्ल फ्रेंड मेरी छोटी बहन के जाने के बाद मेरे पास रहती है! हम दोनों ऐसे रहते जैसे पति पत्नि! मैं शायद वो कर रहा था जिसे आज लोग लिव इन रिलेशनशिप कहते हैं! लेकिन सही मायनो में यह लिव इन रिलेशनशिप नहीं था बल्कि एक प्यार था एक दुसरे के लिये!


Spicy Chapters...