लड़की पटाने का अनोखा स्टाइल
 
लड़की पटाने का अनोखा स्टाइल...
एक बार एक लड़की मुझे इन्टरनेट पर मिली! लड़की की तस्वीर देखने के बाद, उससे कुछ ईमेल कम्युनिकेशन के बाद, हम दोनों ने अपने-अपने फ़ोन नंबर्स एक्सचेंज किये! अब हम दोनों की फ़ोन पर बात हॊने लगी तो, जिसमे एक दुसरे को जानने-पहचानने और जनरल बातें करने का सिलसिला शुरू हुआ!

फिर एक दिन मैंने उस लड़की को, उसकी फोटो देखने के बाद, उसके बारे में बताना शुरू किया, जैसे उसका नेचर, उसकी पसन्द, उसके अंदर क्या चल रहा है, इत्यदि! अब जो-जो बात मैंने उससे कही, उसने मुझसे पुछा कि, मैं उसकी ये सब बातें, कैसे जानता हूँ? मैंने कहा कि, मैंने तो उसकी फोटोग्राफ देखकर, उसके बारे में बताया है! यह सुनकर वो स्तब्ध रह गयी! क्यूंकि वो सब बाते बिलकुल सही थी!

अब तो उसने, मुझसे मिलने का जैसे प्लान कर लिया, और फिर हम दोनों एक कॉफ़ी शॉप में मिले, एक घंटे दोनो वहीं पर रहे. दोनों को अच्छा लगा और धीरे-धीरे हम दोनों, एक दुसरे के करीब आ गये।

एक दिन वो ऑफिस से जल्दी निकली, क्यूंकि मैंने उसे कहा कि, आज घर में कोई नहीं है तो, इस समय का पूरा-पूरा फायदा लिया जाए! वो, मेरे घर करीब 5 बजे पहुच गयी! मैंने उसे कोल्ड ड्रिंक दि, फिर दोनों एक दुसरे के गले लग गये. मैंने उसे बहुत किस किया! वो, भी जैसे इस प्यार के लिये पागल थी! उस समय हम दोनों के प्यार करने की कोई इन्तहा नहीं थी! हम एक दुसरे को चूमते, किस करते रहे! फिर मैं उसे अपने कमरे में ले आया और, हम दोनों ने एक दुसरे के धीरे-धीरे कपडे उतारे और, एक दुसरे के बदन को चूमने लगे! वो तो, पागल हो चुकी थी और मेरे साथ सहवास करना चाहती थी! मैं भी कहाँ रुकने वाला था!

आख़िरकार, उसने जबरदस्ती मुझे अपने में फनाह हॊने के लिये मजबूर कर दिया! आज भी हम दोनों दोस्त हैं, लेकिन वो, अब दुसरे शहर में है, और मेरे टच में भी है। लेकिन इस तरह, जब मैंने एक बंदी को पटाया तो, दूसरी बंदियों को मेरे पटाने के, और रास्ते खुल गये! मेरा यह तजुर्बा, लड़की पटाने का, वाकई एक अनोखा स्टाइल था!


Spicy Chapters...